भारत में इंटरनेट यूजर्स Internet Users in India Details with Statistics 2016

191

भारत में जन सामान्य के लिए इंटरनेट सेवा का आरम्भ 15 अगस्त 1995 को किया गया। जिसे विदेश संचार लिमिटेड द्वारा प्रारम्भ किया गया। भारत में इंटरनेट सेवा प्रदान करने वाली अन्य कम्पनिया है-भारत संचार निगम लिमिटेड,मंञ आन लाइन, सत्यम आनलाइन आदि।

भारत में 35 करोङ इंटरनेट यूजर है,इनमे से 10 करोङ लोग नियमित इंटरनेट उपयोग करते है। 2020 तक भारत में 73 करोङ इंटरनेट यूजर हो जायेगें।

भारत में इंटरनेट डेटा की दर

भारत में औसत इंटरनेट यूजर 1 G.B डेटा के लिए 228 रूपये खर्च करता है जो वैश्विक मानको के अनुसार 4 गुना मंहगा है। इस आधार पर भारत में यूजर सालाना कमाई का 2.6% हिस्सा प्रतिमाह डेटा पर खर्च करता है। जबकि विकसित देशों में यह 0.2-0.4% है। अन्तराष्ट्रीय मानको के अनुसार प्रति G.B 57 रू होनी चाहिए।

इंटरनेट डेटा की उपलब्धता

भारत में इंटरनेट स्पीङ काफी कम है। इसके बढने के आसार है। भारत में 4 MBPS की स्पीङ के लिए प्रति माह 1250 रू खर्च करने पङते है। अन्य देशों के मुकाबले भारत 5-13 गुना ज्यादा खर्च करता है।
3 जी सेवा तेजी से सुधर रही है। 4 जी डेटा की मांग भी बढ रही है।

दरें घटेंगी तो बढेगी कमाई

भारत में डेटा दरो में 75% कमी की जाती है। तब भी कंपनियों को घाटा नही होगा। इसकी वजह है 67 करोङ सिम यूजर्स। सस्ती दरों से इंटरनेट यूजर्स की संख्या बढेगी। मेसोन के अनुमान के मुताबिक अगर दरों में कमी की जाती है तो भारत में 2019-20 तक प्रति माह डेटा इस्तेमाल 4.2-4.3 जीबी तक पहुच जाएगा।

SHARE