ज्यादा नमक खाने के नुकसान (Side Effects of Eating More Salt in Food)

1052

भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए नमक एक महत्वपूर्ण यौगिक है, लेकिन नमक का प्रयोग सीमित मात्रा में ही करना चाहिए नहीं तो इसके विपरीत प्रभाव पड़ने लगते हैं। नमक का अधिक मात्रा में सेवन करने से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है और बढ़ा हुआ ब्लड प्रेशर शरीर के लिए घातक साबित होता है। मनुष्य को नमक के सेवन में सतर्कता रखनी चाहिए।

ज्यादा नमक खाने से होने वाले नुकसान (Harmful side effects of eating more salt in food)

अपने शरीर के लिए सोडियम की पूर्ति की आवश्यकता नमक द्वारा पूरी होती है। लेकिन इंसान नमक का सेवन आवश्यकता से अधिक कर लेता है जो शरीर के लिए घातक है। एक रिपोर्ट के अनुसार मनुष्य को प्रतिदिन सोडियम 1500 से 2300 मिलीग्राम का सेवन बहुत है। सोडियम का अधिक सेवन बीमारियों को न्योता देता है।

अधिक नमक के सेवन से होने वाले रोग इस प्रकार है

  • मोटापे की समस्या
  • मधुमेह
  • ह्रदय रोग
  • स्ट्रोक
  • उच्चरक्तचाप
  • पेट का कैंसर होने का खतरा
  • ऑस्टियोपोरोसिस व किडनी संमबधित रोग
  • वैस्कुलर डैमेंडिया व पानी सोखने की समस्या
  • दमा होने का खतरा

स्ट्रोक – स्ट्रोक दो तरीके से हो सकते हैं, 1. इश्चेमिक स्ट्रोक 2. हेमरेजिक स्ट्रोक

जब रक्त कोशिकाओं के रास्ते में कोई बाधा उत्पन्न होती है तो इंसान इस्लामिक स्ट्रोक से पीड़ित हो जाता है। जब रक्त की वाहिनी या फट जाती है तो मस्तिष्क में बहुत अधिक रक्त स्त्राव होने लगता है उस स्थिति में मनुष्य हेमरेजिक स्ट्रोक का शिकार होता है।

Read More – बालों से जुडी सामान्य गलतियां व बचाव Common Hair Care Mistakes and Prevention

बुजुर्गों में विकलांगता का एक कारण स्ट्रोक ही है। नमक के अधिक सेवन से हाई ब्लड प्रेशर होता है और हाई ब्लड प्रेशर से स्ट्रोक की समस्या होती है। नमक का सेवन कम करने से स्ट्रोक की संभावना को आसानी से कम किया जा सकता है।

मानव शरीर में दिल की बीमारी (heart diseases in human body)

मनुष्य द्वारा अधिक नमक का सेवन करने से रक्तचाप बढ़ जाता है। उच्च रक्तचाप होने से रक्त की धमनियों की दीवारें मोटी हो जाती है जिससे दिल में रक्त का संचार काफी कम हो जाता है और इस से मनुष्य को कोरोनरी दिल की बीमारी भी हो सकती है।

मांस पेशियों के मोटी होने से शरीर में सभी जगह रक्त का संचार करने मैं ह्रदय कमजोर हो जाता है। इससे दिल का दौरा भी पड़ सकता है।

बहुत कम लोगों को पता होगा की अधिक नमक के सेवन से शरीर में हृदय को कितना खतरा रहता है। इसलिए आज से ही अपनी सेहत का ध्यान रखिए और नमक का सेवन कम से कम कीजिए।

अधिक नमक सेवन से होने वाले दुष्प्रभाव (short term side effects of having more salt in food)

नमक के अधिक सेवन से वयस्क लोगों में मोटापा आ जाता है।

शरीर के मोटा होने से उच्च रक्तचाप, कोरोनरी, हृदय की बीमारियां, मधुमेह, स्लीप एपनिया आदि बीमारियां होने की काफी संभावना बढ़ जाती है।

व्यक्ति को अधिक पानी की जरूरत महसूस होती है और वह तरल पदार्थों का अधिक सेवन करता है।

मीठे तरल पदार्थ पीने से इंसान का वजन बढ़ता है।

उच्चरक्तचाप कैसे होता है? (How Blood Pressure Rise)

मानव शरीर को सोडियम की आवश्यकता होती है। अतिरिक्त सोडियम को किडनी द्वारा शरीर से बाहर निकाला जाता है। लेकिन जब सोडियम की मात्रा शरीर में बढ़ जाती है तो किडनी इसे बाहर निकालने में असफल रहती है और खून में सोडियम की मात्रा बढ़ती जाती है। फलस्वरुप दिल को अपना कार्य करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है जिससे शरीर का रक्त चाप ब्लड प्रेशर बढ़ने लगता है।

दमे की समस्या

खाने में नमक की अधिक मात्रा में सेवन करने से इंसान को दमे की समस्या से हो जाती है। बहुत कम लोग जानते हैं कि हर 11 में से एक बच्चा और हर 12 में से एक वयस्क आदमी दमे की समस्या से ग्रसित होता है। अपने भोजन में नमक की मात्रा सीमित करके आप इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

अधिक नमक खाने से जल अवरोधन

नमक पानी से ही बनता है। इसलिए पानी को सोखता है। कई बार खाने में ज्यादा नमक खाने से हमें बार बार प्यास लगती है उसकी यही वजह है कि नमक की मात्रा अधिक बढने से पानी की कमी हो जाती है। पानी की कमी से हृदय रोग, गुर्दे व फेफड़ों की खराबी, आर्थराइटिस आदि समस्याएं घर कर लेती है। इसलिए नमक का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

सोडियम के मुख्य स्त्रोत जो रोजमर्रा की जिंदगी में काम आते हैं

  • मार्केट में मिलने वाले चिप्स, पिज़्ज़ा, कैंड सुूप आदि।
  • प्रोसेस्ड व  डिब्बाबंद खाना अचार।
  • इसके अलावा ब्रेड पनीर स्नैक्स आदि सोडियम के स्रोत हैं

अपनी सेहत को बनाए रखने के लिए हमें बाजार से सामान खरीदते समय सोडियम  की मात्रा पर भी ध्यान देना चाहिए। सोडियम की कम मात्रा वाले सामान ही खरीदें। बच्चों को चिप्स,पिज्जा,स्नैक्स से दूर रखें तो काफी अच्छा होगा।आपके लिए भी और बच्चों के लिए भी। डॉक्टर भी नमक का उपयोग संतुलित मात्रा में करने की सलाह देते हैं।

SHARE