तुलसी के फायदे Tulsi Health Benefits (Holy Basil Advantages)

173

तुलसी जो अपना धार्मिक महत्व भी रखती है भारतीय संस्कृति में इसे पौधों में सबसे पवित्र माना जाता है इसे देवी का रूप माना जाता है भगवान विष्णु की पूजा तब तक अधूरी मानी जाती है जब तक उन्हें तुलसी अर्पित ना की जाए।

तुलसी का पौधा हर घर के आंगन में होता है इसे गमले में आसानी से लगाया जा सकता है तुलसी को द मादर मेडिसिन ऑफ नेचर भी कहा जाता है तुलसी में एंटी बैक्टीरियल एंटीफंगल और एंटीवायरस कौन होते हैं इस में बीटा कैरोटीन विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन के, कॉपर, आयरन, कैल्शियम, सोडियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम भी पाए जाते हैं।

तुलसी से होने वाले फायदे

तुलसी में एक्टिव एंटी बैक्टीरियल एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण होते हैं इसमें बीटा कैरोटीन विटामिन ए विटामिन सी विटामिन के कॉपर आयरन कैल्शियम सोडियम पोटेशियम मैग्नीशियम भी पाए जाते हैं।

  • खाली पेट तुलसी का पानी पीने से ह्रदय संबंधित बीमारियां नहीं होती।
  • तुलसी की पत्तियां खून में शुगर लेवल को कम करती है।
  • तुलसी फेफड़ों के संक्रमण को कम करती है।
  • तुलसी मे दर्द से राहत दिलाने वाले गुण होते हैं।

तुलसी का रस शहद में मिलाकर 6 महीने तक लेने से किडनी स्टोन बाहर निकल जाते हैं, तुलसी एचआईवी तथा कैंसर सेल्स को रोकने में मदद करती है। तुलसी की पत्तियां पानी के से आंखों को धोने से वायरल फंगल इंफेक्शन से आराम मिलता है।

  • तुलसी में ओमेगा 3 फैटी एसिड होते हैं जो मेमोरी पावर को बढ़ाते हैं।
  • तुलसी तनाव को कम करने में सहायक है।
  • तुलसी की पत्तियां धूम्रपान छोड़ने में सहायक होती है।
  • तुलसी मुंह की दुर्गंध को समाप्त करती है।
  • तुलसी मसूड़ों को मजबूत बनाती है।

तुलसी रक्त को साफ रखती है जिससे चेहरे पर कील मुहासे नहीं होते, तुलसी की पत्तियों को पीसकर चेहरे पर लेप करने से चेहरा चमकदार होता है दाग धब्बे मिट जाते हैं सफेद दाग होने पर तुलसी का लेप राहत देता है, तुलसी के तेल से बालों में जुओं से छुटकारा मिलता है।

  • तुलसी की पाउडर को नारियल तेल में मिलाकर सिर की त्वचा लगाने से खुजली कम हो जाती है।
  • बुखार होने पर तुलसी की पत्तियों के साथ काली मिर्च डालकर काढ़ा पीने से बुखार ठीक हो जाती है।
  • पुरुषों में शारीरिक कमजोरी होने पर तुलसी के बीजों का सेवन फायदेमंद होता है।
  • महिलाओं में पीरियड की अनियमितता को दूर करने के लिए तुलसी के पत्तों का नियमित सेवन लाभ पहुंचाता है।
  • तुलसी का बना काढ़ा पीने से सिर दर्द में आराम मिलता है।

तुलसी के पत्तों अदरक का रस छोटी इलायची को समान मात्रा में लेने से उल्टी नहीं होती, सांस संबंधी समस्या समस्याओं का उपचार करने में तुलसी उपयोगी है। शहद अदरक तथा तुलसी को मिलाकर बनाया गया काढ़ा पीने से सर्दी दमा कफ में राहत मिलती है।

SHARE